मूलांक 3 का स्वभाव । Mulank 3 Ka Swabhav

Published by Rashmi Saurana on

नमस्कार दोस्तों, मैं रश्मि  स्वागत करती हूँ मेरे ब्लॉग वास्तु सपने और भविष्य में । आज हम इस पोस्ट में जानेगे मूलांक 3 ( numerology number 3 personality ) के बारे में, तो चलिए अब हम शुरू करते है ।

mulank 3 ka swabhav

अंक ज्योतिष मूलांक 3 । Ank Jyotish Mulank 3

जिन व्यक्तियों जन्म किसी भी महीने की 3, 12, 21, 30 तारीख को हुआ है, उनका मूलांक 3 होता है। इस पोस्ट में हम मूलांक 3 के व्यक्तियों के स्वभाव और उनके जीवन के बारे जानेगे ।  

मूलांक 3 का स्वामी ग्रह । Mulank 3 Ka Swami Grah

मूलांक 3 के स्वामी ग्रह बृहस्पति है, जो सभी ग्रहों के गुरु है। इस कारण ये लोग अनुशासन के प्रति काफी कठोर होते है और शासक जैसा व्यवहार करते है।

मूलांक 3 का व्यक्तित्व । Mulank 3 Personality

मूलांक 3 के व्यक्ति में ज्ञान का अथाह सागर होता है, ये पढ़ाई में बहुत अच्छे होते है। इनमें रचनात्मक क्षमता भी पर्याप्त होती है।

ये जिस कार्य को ठान लेते है उसे करके ही छोड़ते है और किसी पर निर्भर नहीं रहते है।

ये लोग बड़े ही स्वाभिमानी होते है। किसी के आगे झुकना इन्हें अच्छा नहीं लगता है। ये अपनी स्वतंत्रता में किसी का हस्तक्षेप पसंद नहीं करते है।

ये लोग महत्वाकांक्षी भी होते है। इस कारण ये अपनी जिंदगी में सब कुछ पा लेते है।

अन्य मूलांक के बारे में पढ़े

मूलांक 3 का स्वभाव । Mulank 3 Ka Swabhav

ये लोग साहसी, शक्तिशाली, संघर्षशील और मेहनती होते है, तथा कभी कष्टों से हार नहीं मानते है। ये लोग हर परिस्थिति में प्रसन्न रहते है, अच्छाई व सच्चाई के मार्ग पर चलना इन्हें पसंद होता है।

यह लोग अच्छे अभिवक्ता, विचारक और संभावित घटनाओं को भाप लेने वाले होते है।

यह लोग स्पष्टवादी स्वभाव के होते है। इस स्वभाव के कारण लोग इन्हें कभी कभी पसंद नहीं करते है।

यह लोग स्वभाव से शांत, कोमल, मृदुभाषी, आत्मविश्वास से पूर्ण तथा धैर्य रखने वाले होते है। ये लोग सभी के प्रति विनम्र और मिलनसार होते है।

यह लोग थोड़े घमंडी भी होते है। धन संचय करना भी उनके लिए कठिन होता है।

यह लोग मित्र और शत्रु की पहचान में नहीं कर पाते है, इसलिए इनके गुप्त शत्रु भी हो सकते है।

सम्पूर्ण और सटीक भविष्य की जानकारी के लिए कुंडली का विश्लेषण आवश्यक है। 

कृपया इस लेख पर कमेन्ट के माध्यम से अपनी प्रतिक्रिया दे ।

धन्यवाद ।


0 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.

close
error: Content is protected !!